प्रचार क्या है? पर्यटन प्रचार में ब्रोशर कैसे मदद करते हैं?

प्रचार –  किसी स्थान, जगह, इलाके के बारे की विशेषता के बारे में रेडियों, समाचार, व पत्रिका के द्वारा लोगों को परिचित करना प्रचार कहलाता है। प्रचार से पर्यटन व्यवसाय को सबसे अधिक लाभ होता होता है। लोग नये नये जगह के बारे में जानते है। फिर आपने अवकाशों के दिनों में यहां समय व्यतीत करने आते है।

पर्यटन प्रचार में ब्रोशर कैसे मदद करते हैं?

पिछले दशक में, पर्यटन भारत के सबसे तेज़ी से बढ़ रहे बाजारों में से एक बन गया है, जो लाखों सेवा उद्योग नौकरियों में योगदान देता है। पर्यटन मंत्रालय ने 2002 में एक अविश्वसनीय छुट्टी अभियान के रूप में भारत को बढ़ावा देने के लिए अविश्वसनीय भारत अभियान शुरू किया। अभियान सफल रहा, और अब भारत यू.एस. और कनाडा के यात्रियों के लिए शीर्ष स्थलों में से एक है। अगस्त 2009 में स्वाइन फ्लू के प्रकोपों ​गर्मियों के मौसम पर्यटन व्यवसाय को थोडा धक्का जरुर लगा था। कई यात्रियों ने संक्रमण के बजाय यात्रा रद्द कर दी। लेकिन पर्यटन प्रचार में ब्रोशर के रुप में अविश्र्वसनीय भारत अभियन ने काफी मदद की। अब भारत में पर्यटन व्यवसाय तेजी फिर से बढ़ रहा है।

अविश्वसनीय भारत अभियान –
भारतीय पर्यटन मंत्रालय ने 2002 में दुनिया भर के आगंतुकों  (पर्यटको) को भारत का अनुभव करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए अविश्वसनीय भारत अभियान शुरू किया। समेकित विपणन प्रयास में प्रिंट, रेडियो और टेलीविजन विज्ञापन शामिल थे। इस अभियान में सड़क शो भी शामिल थे, जिन्हें ब्रिटेन, कनाडा, सिंगापुर, मलेशिया, रूस, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के लिए योजना बनाई गई थी।

You may also like...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!